Top 50+ भरोसा तोड़ने वाली शायरी In Hindi English

Bharosa Todne Wali Shayari – यदि आपका किसी ने भरोसा तोडा है और आप उस पर शायरी खोज रहे है। तो आज यहाँ हम आपके लिए भरोसा तोड़ने वाली शायरी लिखकर साझा कर रहे है, जिसे आप अपने स्टेटस पर भी डाल सकते है।

भरोसा तोड़ने वाली शायरी

जब भरोसा टुट जाता है,
तो औरों पर से विश्वास उठ जाता है।

Jab bharosa tut jata hai,
To auro par se vishwas uth jata hai.

भरोसा-तोड़ने-वाली-शायरी (1)
भरोसा तोड़ने वाली शायरी

 

जिस पर हम सबसे ज्यादा भरोसा करते है,
वही हमारा भरोसा तोड़ते है।

Jis par hum sabse jyada bharosa karte hai,
Wahi hamara bharosa todte hai.

भरोसा उसी पर करो जो कि भरोसा करने के लायक हो,
उस पर नही जो कि तोड़ने के लायक हो।

Bharosa usi par karo jo ki bharosa karne ke layak ho,
Us par nahi jo ki todne ke layak ho.

जब कोई अपना भरोसा तोड़ता है,
तो दिल बहुत दुखी होता है।

Jab koi apna bharosa todta hai,
To dil bahut dukhi hota hai.

इंसान बदल जाए इस बात का कोई भरोसा नही,
इस पर विश्वास होता है तोड़ते है भरोसा वही।

Insan badal jaye is bat ka koi bharosa nahi,
Is par vishwas hota hai todte hai bharosa wahi.

मतलब की इस दुनिया में नही पता कब कौन किसका होता है,
अक्सर भरोसा वही तोड़ता है जो हमारा सबसे ज्यादा करीब होता है।

Matalab ki is duniya me nahi pata kab kaun kiska hota hai,
Aksar bharosa wahi todta hai jo hamara sabse jyada karib hota hai.

अब इस जमाने में किसी पर भी हमें भरोसा है नही,
लोग कितने बदल गए हम अब भी है वही।

Ab is jamane me Kisi par bhi hume bharosa hai nahi,
Log kitne badal gaye hum ab bhi hai wahi.

गलती की हमने उस पर भरोसा किया,
उसी ने हमारे साथ धोखा किया।

Galati ki humne us par bharosa kiya,
Usi ne hamare sath dhokha kiya.

इंसान का दिल तब दुखता है जब कोई भरोसा तोड़ता है,
तब कोई भी संभालने वाला नही होता है।

Insan ka dil tab dukhata hai jab koi bharosa todta hai,
Tab koi bhi sambhalane wala nahi hota hai.

कोई इंसान अपनों से धोखा खाने के बाद इस तरह टूट जाता है,
एक बार भरोसा तोड़ने के बाद से भरोसा उठ जाता है।

Koi insan apno se dhokha khane ke bad is tarah tut jata hai,
Ek bar bharosa todne ke bad se bharosa uth jata hai.

भरोसा स्वयं पर हो तो ताकत बन जाता है,
दुसरो पर रखो तो टूट जाता है।

Bharosa swayam par ho to takat ban jata hai,
Dusaro par rakho to tut jata hai.

हमारा भरोसा उस पर से ऐसे नही टूटा,
हमने उसे किसी के साथ नजदीकी बढ़ाते हुए देखा।

Hamara bharosa us par se aise nahi tuta,
Humne use Kisi ke sath nazadiki badhate hue dekha.

कोई आप पर भरोसा करे उनका भरोसा मत तोड़ना,
कुछ भी हो जाए अपनो के साथ धोखा मत करना।

Koi aap par bharosa kare unka bharosa mat todna,
Kuchh bhi ho jaye apno ke sath dhokha mat karna.

जिस पर हमने हद से ज्यादा भरोसा किया,
उन्होंने ने ही हमे दरकिनार किया।

Jis par humne had se jyada bharosa kiya,
Unhonne ne hi hume darkinar kiya.

यह पढ़ें: दिल को चुभ जाने वाली शायरी

भरोसा तोड़ने वाली शायरी इमेज

खुबसूरत सी दुनिया में प्यार निभाने वाले,
आज कैसे बन गए भरोसा तोड़ने वाले।

Khubsurat si duniya me pyar nibhane wale,
Aaj kaise ban gaye bharosa todne wale.

भरोसा-तोड़ने-वाली-शायरी (2)
भरोसा तोड़ने वाली शायरी इमेज

 

कभी भी न भरोसा उन पर करना जो है हमारे खिलाफी,
एक बार भरोसा तोड़ने के बाद नही मिलेगी कोई माफी।

Kabhi bhi na bharosa un par karna jo hai hamare khilafi,
Ek bar bharosa todne ke bad nahi milegi koi mafi.

हमेशा ही भरोसा उस पर करो जो कि परवाह करता है,
उस पर नही जो किसी भी समय पर धोखा करता है।

Hamesha hi bharosa us par karo jo ki parwah karta hai,
Us par nahi jo kisi bhi samay par dhokha karta hai.

थोड़ा सा भी किसी पर विश्वास नही होता है,
भरोसा वहां टुटता है जहां पर दिल बहुत दुखी होता है।

Thoda sa bhi kisi par vishwas nahi hota hai,
Bharosa waha tutata hai jahan par dil bahut dukhi hota hai.

ज्यादा भरोसा करने पर हमेशा ही धोखा मिलता है,
दिल तब रोता है जब अपनो से धोखा होता है।

Jyada bharosa karne par hamesha hi dhokha milata hai,
Dil tab rota hai jab apno se dhokha hota hai.

पहले हमारा उस पर से भरोसा टुटा,
फिर हमारा दिल उस पर से उठा।

Pahle hamara us par se bharosa tuta,
Phir hamara dil us par se utha.

भरोसा की आड़ में पनाह लेने वाले,
पता नही कब बन गए तन्हा करने वाले।

Bharosa ki aad me panah lene wale,
Pata nahi kab ban gaye tanha karne wale.

जिसने किया आपके साथ धोखा,
उस पर भरोसा करके नही देना चाहिए कोई मौका।

Jisne kiya aapke sath dhokha,
Us par bharosa karke nahi dena chahiye koi mauka.

भरोसा तोड़ना बहुत ही आसान होता है,
भरोसा करना बहुत ही मुश्किल होता है।

Bharosa todna bahut hi aasan hota hai,
Bharosa karna bahut hi mushkil hota hai.

जिंदगी में आप जो कर रहे है अच्छा कर रहे है,
पर किसी पर खुद से भी ज्यादा भरोसा करके खुद के साथ धोखा कर रहे है।

Zindagi me aap jo kar rahe hai achchha kar rahe hai,
Par kisi par khud se bhi jyada bharosa karke khud ke sath dhokha kar rahe hai.

जिसे प्यार किया वही धोखा दे रहा,
वही खुद पर से भरोसा तोड़ रहा।

Jise pyar kiya wahi dhokha de raha,
Wahi khud par se bharosa tod raha.

किसी से प्यार करना तो उसका भरोसा मत तोड़ना,
उसे बीच रास्ते पर लाकर तन्हा मत छोड़ना।

Kisi se pyar karna to uska bharosa mat todna,
Use bich raste par laker tanha mat chhodna.

मतलब की इस दुनिया मे भरोसा तोड़ना लोगो का काम है बाकी,
यही तो है खुद को दुसरो के सामने अच्छा दिखाने की है उनकी फालतू की झांकी।

Matalab ki is duniya me bharosa todna logo ka kam hai baki,
Yahi to hai khud ko dusaro ke samne achchha dikhane ki hai unki falatu ki jhanki.

न जाने कब इंसान बदल जाता है,
जहां सच्चाई नही होती है वहां भरोसा टुट जाता है।

Na jane kab insan badal jata hai,
Jahan sachchai nahi hoti hai wahan bharosa tut jata hai.

Final Words – यदि आपको भरोसा तोड़ने वाली शायरी में से कोई भी शायरी पसंद आती है और आप उसे अपने व्हाट्सप्प स्टेटस पर डालना चाहते है, तो यहाँ से कॉपी कर सकते है।

यह पढ़ें: अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी

Leave a Comment