Top 50+ गैंगस्टर शायरी 2 लाइन – Gangster Shayari In Hindi

गैंगस्टर शायरी 2 लाइन – यहाँ पर आपके लिए गैंगस्टर शायरी एवं माफिया डॉन शायरी लिखी गयी है, जिसमें आपके साथ Gangster Attitude Shayari लिखकर साझा की गयी है।

गैंगस्टर शायरी 2 लाइन

पहले तेरी औकात देख,
फिर मेरी औकात देख।

Pahle teri aukat dekh,
Phir meri aukat dekh.

गैंगस्टर-शायरी-2-लाइन (1)

कमी तो मुझमे बहुत है,
अगर जिगरा है तो निकालकर बता।

Kami to mujhme bahut hai,
Agar jigara hai to nikalakar bata.

आज हमारा नाम ना हुआ तो क्या हुआ,
एक दिन हमारा ये सपना भी पूरा होगा।

Aaj hamara nam na hua to kya hua,
Ek din hamara ye sapna bhi pura hoga.

लोगों को समझाने के लिए,
हमारा एक ही इशारा काफी है।

Logon ko samajhane ke liye,
Hamara ek hi ishara kafi hai.

एक बार चलते है तो हमें रुकना नही आता,
कुछ भी हो जाए किसी के सामने झुकना नही आता।

Ek bar chalte hai to hume rukna nahi aata,
Kuchh bhi ho jaye kisi ke samane jhukna nahi aata.

हम अपने जीवन में पैसों का हिसाब नही रखते है,
मगर चेहरो का हिसाब जरूर रखते है।

Hum apne jeevan me paiso ka hisab nahi rakhate hai,
Magar chehro ka hisab jarur rakhate hai.

बहुत से हमारे ही आदी है।
लोगो को डराने के लिए हमारा नाम ही काफी है।

Bahut se hamare hi aadi hai.
Logo ko darane ke liye hamara nam hi kafi hai.

खुश रहो या गम में रहो,
परंतु हमारे साथ अच्छे से रहो।

Khush raho ya gam me raho,
Parantu hamare sath achchhe se raho.

Read Also: दुश्मन की औकात शायरी

गैंगस्टर शायरी 2 Line In Hindi

लोगो की जलन बरकरार रखने के लिए,
हमारे तो जलवे ही काफी है।

Logo ki jalan barkarar rakhane ke lie,
Hamare to jalwe hi kafi hai.

गैंगस्टर-शायरी-2-लाइन (2)

मोहब्बत में हम सब कुछ सुन लेगे हुजूर,
कोई हमसे धोखा करे ये हमें नही होगा मंजूर।

Mohbbat me hum sab kuchh sun lege hujur,
Koi humse dhokha kare ye hume nahi hoga manjur.

दुसरो की तुम सुनते हो तो तुम्हारे साथ बुरा ही होगा,
खुद की सुनोगे तो सब कुछ अच्छा ही होगा।

Dusro ki tum sunte ho to tumhare sath bura hi hoga,
Khud ki sunoge to sab kuchh achchha hi hoga.

हम तो अपनी मर्जी के मालिक है,
जो भी करते है अपनी मर्जी से करते है।

Hum to apni marji ke malik hai,
Jo bhi karte hai apni marji se karte hai.

हमारे साथ दोस्ती में सब कुछ जायज है,
परंतु धोखा गलती से भी मत करना।

Hamare sath dosti me sab kuchh jayaz hai,
Parantu dhokha galti se bhi mat karna.

हम खामोश जरुर है,
परंतु खौफ हमारा गुरुर है।

Hum khamosh jarur hai,
Parantu khauff hamara gurur hai.

हम थोड़ा सा अभिमानी है,
हमारा खून खानदानी है।

Hum thoda sa abhimani hai,
Hamara khoon khandani hai.

जो हमें नही समझ सकता,
वो हमारे सामने खड़ा नही हो सकता।

Jo hume nahi samajh sakta,
Wo hamare samane khada nahi ho sakta.

हम नही है किसी के आदी,
हमें देखकर ही लोगों की उम्मीदें जागी।

Hum nahi hai kisi ke aadi,
Hume dekhaker hi logo ki ummiden jagi.

Read Also: किसी को चिढ़ाने के लिए शायरी

माफिया डॉन शायरी Hindi English

कुछ भी करो,
लेकिन हमसे उम्मीद न रखो।

Kuchh bhi karo,
Lekin humse ummid na rakho.

गैंगस्टर-शायरी-2-लाइन (3)

हमारा भी है शौक,
कुछ भी करने से हमें कोई भी नही सकता रोक।

Hamara bhi hai shauk,
Kuchh bhi karne se hume koi bhi nahi sakta rok.

कुछ भी कहो,
हम समय आने पर बताते है।

Kuchh bhi kaho,
Hum samay aane par batate hai.

जिंदगी हमारी अपनी है ऐसे जियो,
हमें देखकर लोगों को जलन हो।

Zindagi hamari apni hai aise jiyo,
Hume dekhaker logo ko jalan ho.

हमें कोई रोक नही सकता,
जिसमें दम हो वो रोक के बताए।

Hume koi rok nahi sakta,
Jisme dam ho wo rok ke bataye.

लोग तो किस्मत आजमाते है,
हम किस्मत के साथ खेलते है आजमाते नही है।

Log to kismat aajmate hai,
Hum kismat ke sath khelate hai aajmate nahee hai.

गुलामी तो हम अपने आप की भी नही करते,
तो दुसरो की बात क्या।

Gulami to hum apne aap ki bhi nahi karte,
To dusro ki bat kya.

हमें दुनियादारी की बात करने की आदत नही,
हम तो खुद की बात करते है।

Hume duniyadari ki baat karne ki aadat nahi,
Hum to khud ki bat karte hai.

हमें दुनिया के पीछे चलने की आदत नही है,
बल्कि लोग हमारे पीछे चलते है।

Hume duniya ke pichhe chalne ki aadat nahi hai,
Balki log hamare pichhe chalte hai.

Read Also: दुश्मन को जलाने वाली शायरी

Gangster Shayari In Hindi 2 Line

बंदुक की गोली और हमारी बोली अगर लग जाए,
तो दोनों ही जख्म एक जैसे देती है।

Banduk ki goli aur hamari boli agar lag jaye,
To dono hi jakhm ek jaise deti hai.

गैंगस्टर-शायरी-2-लाइन (4)

जो एक बार हमारे नजरो में गिर गया,
वो कुछ भी करे हमें कुछ भी फर्क नही पड़ता।

Jo ek bar hamare nazaro me gir gaya,
Wo kuchh bhi kare hume kuchh bhi fark nahi padta.

हम बदमाशी करते है,
परंतु किसी को परेशानी में नही डालते है।

Hum badamashi karte hai,
Parantu kisi ko pareshani me nahi dalate hai.

हमें कुछ आता है या नही आता,
मगर लोगो को कायदा सीखना अच्छे से आता है।

Hume kuchh aata hai ya nahi aata,
Magar logo ka kayada sikhana achchhe se aata hai.

चाहे कुछ भी करो,
मगर हमारे साथ बदमाशी करने की गलती मत करना।

Chahe kuchh bhi karo,
Magar hamare sath badmashi karne ki galti mat karna.

हमारे हौसले को कोई तोड़ नही सकता,
अगर तोड़ने की हिम्मत है तो सामने आकर दिखाएं।

Hamare hausale ko koi tod nahi sakta,
Agar todane ki himmat hai to samane aaker dikhaye.

सबने हमें अपनी अपनी औकात दिखाई है,
अब औकात दिखाने की बारी हमारी आई है।

Sabne hume apni apni aukat dikhai hai,
Ab aukat dikhane ki bari hamari aayi hai.

न किसी से डरता हूं न कही किसी से डरुगा,
न किसी से हारा हूं न किसी से हार मानुगा,
जो भी करुंगा अपने दम पर करूंगा।

Na kisi se darta hun na kahi kisi se daruga,
Na kisi se hara hun na kisi se har manuga,
Jo bhi karunga apne dam par karunga.

हमसे दूर रहोगे तो फायदे में रहोगे,
हमसे टकराने की सोचना भी मत वरना कायदा सीखना हमें भी अच्छे से आता है।

Humse dur rahoge to fayade me rahoge,
Humse takrane ki sochana bhi mat warna kayda sikhana hume bhi achchhe se aata hai.

Read Also: Stop Interfering In Others Life Quotes In Hindi

Final Words – गैंगस्टर शायरी 2 लाइन पर लिखी गयी ये पोस्ट यहीं पर समाप्त होती है। अगर आप लोगों को यहाँ लिखी गैंगस्टर शायरी और माफिया डॉन शायरी पसंद आती है, तो इसे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment